ITR फाइल करने की समय सीमा बढ़ाई गई

Last Updated at: July 31, 2020
221
ITR फाइल करने की समय सीमा बढ़ाई गई

हाल ही में सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ डायरेक्ट टैक्सेज ने टैक्स पयेर्स को एक अच्छा तोहफा दिया है। कोरोना संकट और अर्थव्यस्था का मद्दे नज़र रखते हुए ITR फाइलिंग की डेट्स को दो महीनों के लिए बढ़ा दिया गया है।अब टैक्सपयेर्स 31 जुलाई की पिछली समयसीमा के बजाय 30 सितंबर, 2020 तक FY 2019-20 के लिए मूल और संशोधित दोनों रिटर्न दाखिल कर सकते हैं।

इस वित्तीय वर्ष के लिए सरकार द्वारा घोषित तीसरी ऐसी बड़ी घोसना है।  इससे पहले मार्च में, समय सीमा पहली बार 31 मार्च से 30 जून तक बढ़ाई गई थी। जून में, समय सीमा को 31 जुलाई तक बढ़ा दिया गया था। उद्योग के विशेषज्ञों ने कहा है कि तीसरा विस्तार महामारी की स्थिति से परेशान टेक्सपैयर्स के अनुपालन बोझ को और कम करेगा। जो टेक्सपैयर्स अपने बेलगाम आईटीआर दाखिल नहीं कर सकते थे और संभवत: भारी जुर्माने देने पड़ते, वे अब राहत की सांस ले सकते हैं|

इनकम टैक्स फाइल करें

नियत तारीख का अनुमान

हाल ही में सीबीडीटी की अधिसूचना में वरिष्ठ नागरिकों के लिए कुछ छूट का भी उल्लेख किया गया है। यह 24 जुलाई को वित्त मंत्रालय द्वारा की गई घोषणा के अनुरूप है। इसमें कहा गया है कि व्यवसाय या पेशे से बिना आय वाले वरिष्ठ नागरिकों को 31 जुलाई 2020 तक नियत तारीख मानते हुए, आयु 2020-21 के लिए अग्रिम कर का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है।

आइये एक नज़र डालते हैं टैक्स रेट्स पर

टैक्सेबल इनकम रेंज (Rs) टैक्स रेट 2020 बजट के पहले टैक्स रेट 2020 बजट के बाद
0-2.5 लाख
2.5-5 लाख 5% 5%
5-7.5 लाख 20% 10%
7.5-10 लाख 20% 15%
10-12.5 लाख 30% 20%
12.5-15 लाख 30% 25%
15 लाख + 30% 30%

 

कैसे वकिलसर्च आपको आपके ITR फाइलिंग में मदद करता है

  1. हमारे टैक्स एक्सपर्ट्स आपसे डिटेल्स लेते हैं
  2. आपका टैक्स रिटर्न बनाया जाता है
  3. उसके बाद आपकी टैक्स रिटर्न फाइल की जाती है

 

0

ITR फाइल करने की समय सीमा बढ़ाई गई

221

हाल ही में सेंट्रल बोर्ड ऑफ़ डायरेक्ट टैक्सेज ने टैक्स पयेर्स को एक अच्छा तोहफा दिया है। कोरोना संकट और अर्थव्यस्था का मद्दे नज़र रखते हुए ITR फाइलिंग की डेट्स को दो महीनों के लिए बढ़ा दिया गया है।अब टैक्सपयेर्स 31 जुलाई की पिछली समयसीमा के बजाय 30 सितंबर, 2020 तक FY 2019-20 के लिए मूल और संशोधित दोनों रिटर्न दाखिल कर सकते हैं।

इस वित्तीय वर्ष के लिए सरकार द्वारा घोषित तीसरी ऐसी बड़ी घोसना है।  इससे पहले मार्च में, समय सीमा पहली बार 31 मार्च से 30 जून तक बढ़ाई गई थी। जून में, समय सीमा को 31 जुलाई तक बढ़ा दिया गया था। उद्योग के विशेषज्ञों ने कहा है कि तीसरा विस्तार महामारी की स्थिति से परेशान टेक्सपैयर्स के अनुपालन बोझ को और कम करेगा। जो टेक्सपैयर्स अपने बेलगाम आईटीआर दाखिल नहीं कर सकते थे और संभवत: भारी जुर्माने देने पड़ते, वे अब राहत की सांस ले सकते हैं|

इनकम टैक्स फाइल करें

नियत तारीख का अनुमान

हाल ही में सीबीडीटी की अधिसूचना में वरिष्ठ नागरिकों के लिए कुछ छूट का भी उल्लेख किया गया है। यह 24 जुलाई को वित्त मंत्रालय द्वारा की गई घोषणा के अनुरूप है। इसमें कहा गया है कि व्यवसाय या पेशे से बिना आय वाले वरिष्ठ नागरिकों को 31 जुलाई 2020 तक नियत तारीख मानते हुए, आयु 2020-21 के लिए अग्रिम कर का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है।

आइये एक नज़र डालते हैं टैक्स रेट्स पर

टैक्सेबल इनकम रेंज (Rs) टैक्स रेट 2020 बजट के पहले टैक्स रेट 2020 बजट के बाद
0-2.5 लाख
2.5-5 लाख 5% 5%
5-7.5 लाख 20% 10%
7.5-10 लाख 20% 15%
10-12.5 लाख 30% 20%
12.5-15 लाख 30% 25%
15 लाख + 30% 30%

 

कैसे वकिलसर्च आपको आपके ITR फाइलिंग में मदद करता है

  1. हमारे टैक्स एक्सपर्ट्स आपसे डिटेल्स लेते हैं
  2. आपका टैक्स रिटर्न बनाया जाता है
  3. उसके बाद आपकी टैक्स रिटर्न फाइल की जाती है

 

0

No Record Found
शेयर करें