मुंबई में जन्म प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कैसे करें ?

Last Updated at: Jul 20, 2020
1151
प्रोबेट क्या है? यह क्यों अनिवार्य है प्रॉपर्टी ट्रांसफर के समय?

अगर आप मुंबई से हैं तो जन्म पात्र जरूर बनवा लें, क्यूंकि यह आपको बहुत मदद करेगा| जन्म प्रमाण पत्र प्रस्तुत एक आवश्यक दस्तावेज है जो सत्यापन के लिए उपयोग किया जाता है। यह वीजा, पासपोर्ट या ऐसी अन्य प्रक्रिया के लिए आवेदन करते समय सहायक दस्तावेज के रूप में उपयोग किया जाता है। यह वास्तविक नाम और निवास प्रमाण के रूप में एक कानूनी दस्तावेज के रूप में कार्य करता है। आइए हम मुंबई में जन्म प्रमाण पत्र पर अधिक देखें जन्म प्रमाणपत्र

यह एक कानूनी दस्तावेज है जिसमे  निवास और जन्म के स्थान का उल्लेख होता है|  वास्तविक नाम के प्रमाण के रूप में कार्य करता है। यह महत्वपूर्ण है जब आप  जन्म प्रमाण पत्र के लिए आवेदन करते है तो आप बच्चे के जन्म से 21 दिनों के भीतर निकटतम नगरपालिका जन्म प्रमाणपत्र कार्यालय में पंजीकृत करें। जन्म प्रमाण पत्र अस्पताल या नगर निगम कार्यालय से जारी किया जाता है।

मुंबई में जन्म प्रमाण पत्र के लिए कैसे आवेदन करें

मुंबई में जन्म प्रमाण पत्र नगर निगम ग्रेटर मुंबई के निकटत कार्यालय में आवेदन किया जाता है  जो मुंबई में जन्म प्रमाणपत्र जारी करने का अधिकार भी है।

  1. आपको पहले उस फॉर्म को भरकर बच्चे का नाम पंजीकृत करना होता है जिसे आप कार्यालय से 5 रु मे  प्राप्त कर सकते हैं। समय-समय पर लागत अधिक हो सकती है।
  2. पंजीकृत होने के बाद जन्म प्रमाण पत्र आवेदन पत्र प्राप्त करना होता है जिसे अस्पताल से या नगर निगम कार्यालय से लिया जा सकता है।
  3. नाम से संबंधित सभी विवरणवह स्थान जहाँ बच्चा पैदा हुआ था माँ का नाम और पिता का नाम अस्पताल जहाँ बच्चा पैदा हुआ था और निवास का पता । जन्म प्रमाण पत्र में नगरपालिका अधिकारी की एक मुहर लगी होती है,   इस तरह के एक प्राधिकरण (Authority) से या डॉक्टर के नाम और अस्पताल के माध्यम से लागू किया जाता है  फिर अस्पताल की मुहर लगाई जाटी है ।
  4. आपको कुछ दिनों तक प्रतीक्षा करने की आवश्यकता है इसके बाद आपको प्रमाण पत्र प्राप्त हो जाता है   जिसके लिए आपको अधिकारी द्वारा सूचित किया जाता है। 

परामर्श लें 

मुंबई में जन्म प्रमाण पत्र नगर निगम ग्रेटर मुंबई द्वारा जारी किया जाता है।  पहले कार्यालय में जारी किए गए आवेदन को भरकर बच्चे का नाम दर्ज करना होता है ।  पंजीकृत होने के बाद  जन्म प्रमाण पत्र फॉर्म, अस्पताल या नगर निगम कार्यालय से लिया जाता है। प्रक्रिया में कुछ दिन लगते हैं और जन्म प्रमाण पत्र लेने के लिए सूचित किया जाएगा।