Now you can read this page in English.Change language to English

पब्लिक इंटरेस्ट लिटिगेशन


कोई व्यक्ति लोगो कि भलाई के लिए कोर्ट में जनहित याचिका (PIL) फाइल कर सकता है। केस में टेरोरिज़्म , बंधुआ मजदूरी, एसिड अटैक , पोल्युसन , सड़क सुरक्षा, एनवायरनमेंटल डिग्रेडेशन , निर्माण संबंधी रिस्क को कुछ नाम दिया जा सकता है। जनहित याचिका 1976 में मुंबई कामगार सभा बनाम अब्दुल थाई मामले से शुरू हुई थी। और पहला पी आई एल मामला हुसैनारा खातून बनाम बिहार राज्य (1979) में जेलों की दयनीय स्थिति को दिखाता है|

शहर चुनें*

आसान मासिक ईएमआई विकल्प उपलब्ध हैं

कोई स्पैम नहीं। कोई साझाकरण नहीं। 100% गोपनीयता।

noimage400,000 +

व्यापार सेवित

noimage4.3/5

गूगल रेटिंग्स

noimageसरल

पेमेंट ऑप्शन

पब्लिक इंटरेस्ट लिटिगेशन कैसे दायर करें?

ऐसी परिस्थितियों में जहाँ आपके कानूनी अधिकारों या लाएबिलिटीज़ की अवहेलना की जाती है अदालत ने आपको जनहित याचिका दायर करने की शक्ति दी है। Vakilsearch आपको 3 सरल तरीकों से PIL के लिए रजिस्टर करने में हेल्प करता है –

noimage
एक विशेषज्ञ वकील को आपके मामले में सौंपा जाता है |

चरण 1

noimage
noimage
वकीलों द्वारा आपके डाक्यूमेंट का ड्राफ्ट तैयार किया जाता है|

चरण 2

noimage
noimage
याचिका दायर करना

चरण 3

Trusted by 400,000 clients and counting, including …