Now you can read this page in English. Change to English

आय कर रिटर्न

हमारी सेवा का उपयोग करके अपने आयकर रिटर्न को बिना परेशानी के दाखिल करें।

हमारे लीगल एक्सपर्ट से बात करें

arrow400,000+

व्यापार सेवित

arrow4.3/5

गूगल रेटिंग्स

arrowसरल

पेमेंट ऑप्शन

आपके लिए आयकर रिटर्न फाइलिंग ऑनलाइन कैसे काम करती है?

इस फॉर्म में एक निर्धारिती द्वारा भुगतान किए गए आयकर की जानकारी होती है, जिसके दाखिल होने से ऋण प्राप्त करने में
, वीज़ा आवेदन में मदद मिलती है और दंड से बचने में भी मदद मिलती है।

सूचना संकलन

हमारे एजेंट
डेटा संग्रह के लिए एक सहज प्रक्रिया स्थापित करेंगे।

चरण 1

वापसी की तैयारी

आवश्यक के रूप में आपका रिटर्न तैयार किया जाएगा।

चरण 2

रिटर्न फाइलिंग

इससे पहले कि आप इसे जाने, आपका रिटर्न फाइलिंग के लिए तैयार हो जाएगा।

चरण 3

सूचना संकलन

हमारे एजेंट
डेटा संग्रह के लिए एक सहज प्रक्रिया स्थापित करेंगे।

वापसी की तैयारी

आवश्यक के रूप में आपका रिटर्न तैयार किया जाएगा।

रिटर्न फाइलिंग

इससे पहले कि आप इसे जाने, आपका रिटर्न फाइलिंग के लिए तैयार हो जाएगा।

भारत में इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करना

भारत में नौकरी, कारोबार या पेशे से आमदनी वाले हर व्यक्ति के लिए इनकम टैक्स यानि (आयकर) ज़रूरी है। हालांकि, हर व्यक्ति को अपनी आमदनी के हिसाब से ही टैक्स भरना होता है, लेकिन इस प्रक्रिया से कोई भी वंचित नहीं है। इतना ही नहीं, भारतीय आयकर विभाग के पास टैक्स वसूली के कई रुप हैं, जिसमें आईटीआर-1, आईटीआर-2, आईटीआर-3, आईटीआर-4, आईटीआर-5, आईटीआर-6 और आईटीआर-7 शामिल है।

बता दें कि भारत में अब 5 लाख रुपये से ज्यादा सालाना कमाने वाले व्यक्ति को इनकम टैक्स भरना पड़ता है, जिसकी वजह से वकील सर्च इससे जुड़ी तमाम जानकारियां आपके लिए लेकर आया है।

आप सभी को पता होना चाहिए

इनकम टैक्स रिटर्न फाइलिंग के दौरान ध्यान देने योग्य बातें


यूं तो इनकम टैक्स रिटर्न फाइलिंग के लिए कई बातों का विशेष तौर पर ध्यान रखना चाहिए, लेकिन उसमें से कुछ प्रमुख बातों के बारे में नीचे बताया गया है-

  • रिटर्न फाइल करने की अंतिम तिथि का इंतजार न करें।
  • रिटर्न फाइल करने के लिए आवश्यक दस्तावेज़ों को हमेशा साथ रखें।
  • सही इनकम टैक्स फॉर्म का ही चयन करें।

इनकम टैक्स रिटर्न क्यों फाइल करें?


इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने से ढेर सारे फायदे होते हैं, जिसमें कुछ प्रमुख फायदों के बारे में नीचे बताया गया है, जिसकी मदद से आपको यह समझने में आसानी होगी कि इसे क्यों फाइल करना चाहिए-

  • लोन: यदि आप लगातार इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करते रहेंगे, तो आपको व्यक्तिगत, शिक्षा और होम लोन जैसे तमाम बैंक लोन लेने में परेशानी नहीं होगी। दरअसल, बैंक को लोन देने के लिए पिछले तीन साल के रिटर्न की आवश्यकता होती है।
  • वीज़ा: यदि आप वीज़ा बनवाना चाहते हैं, तो आपके लिए इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करना ज़रूरी है, क्योंकि इसके लिए आईटी रिटर्न के प्रमाण की ज़रूरत पड़ती है। बता दें कि इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करना वीज़ा आवेदकों के लिए ज़रूरी दस्तावेज़ों में से एक है।
  • कानूनी पचड़े से बचें: जो व्यक्ति इनकम टैक्स रिटर्न फाइल नहीं करते हैं, उनसे भारी भरकम जुर्माना वसूला जाता है, इसीलिए आपको समय समय पर इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करते रहना चाहिए।

ऑनलाइन इनकम टैक्स रिटर्न फाइल कैसे दाखिल करें?


ऑनलाइट इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए सबसे पहले अपने साथ बैंक का स्टेटमेंट और पिछले साल का रिटर्न फाइल ज़रुर रखें।

  • सबसे पहले www.incometaxindiaefiling.gov.in पर लॉग इन करें।
  • पैन नंबर का यूज करके वेबसाइट पर रजिस्टर करें। यही आपकी आईडी होती है।
  • रजिस्टर के बाद फॉर्म 26AS देखें, जिसमें नियोक्ता द्वारा काटी गई रकम होती है। इसके बाद फॉर्म 16 पर TDS इस राशि से मेल खानी चाहिए।
  • उपरोक्त प्रक्रिया से गुजरने के बाद अपना फॉर्म डाउनलोड कीजिए। यदि कोई दुविधा हो तो वकील सर्च से संपर्क कीजिए।
  • आवश्यक जानकारी भरने के बाद फॉर्म को जमा कर दें।
  • अपनी देय राशि जानने के लिए गणना पर क्लिक करें।
  • यदि देय राशि ठीक हो तो पेमेंट का भुगतान करें।
  • फॉर्म के रिटर्न टैक्स के सेक्शन पर क्लिक करके चालान विवरण दर्ज करें।

इनकम टैक्स फाइल करने की निर्धारित तारीख

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की निर्धारित निम्नलिखित है, जिसे आप अपने अनुसार देख सकते हैं-


  • 31 जुलाई- कोई फर्म या व्यक्ति, जो ऑडिट के लिए उत्तरदायी नहीं है।
  • 30 सिंतबर- कोई कंपनी या व्यक्ति, जो ऑडिट के लिए उत्तरदायी है।
  • 31 मार्च- जिन्होंने इस तारीख से पहले अपना टैक्स नहीं भरा, वे सभी इस तारीख तक अपना टैक्स ज़रूर भरें।

वकील सर्च आपको इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने का गूगल कैलेंडर मुहैया कराता है, जिसके ज़रिए आपको ये तीरीखें याद नहीं रखनी पड़ेगी।

इनकम टैक्स रिटर्न किसे फाइल करना चाहिए?


इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करना हर किसी के लिए अनिवार्य है। फिर चाहे आमदनी कर सीमा से ऊपर हो या फिर ज़ीरो या फिर वापसी हो, लेकिन सभी को टैक्स ज़रूर भरना चाहिए। नीचे इनकम टैक्स रिटर्न फाइल के स्लैब दिए गए हैं, जिसका अपना एक अलग क्षेत्र है-

  • आय की परवाह किए बिना सभी साझेदारी फर्म
  • एक विश्वविद्याल, कॉलेज या अन्य संस्थान, जिसे यू/एस 35 (1) (ii)/ (iii) कहा जाता है।
  • भारत के नहीं रहने वाले लोगों को यू/एस 115एसी और 115जी के अंतर्गत रखा गया है।
  • कोई भी व्यक्ति, जिसे व्यवसाय में फायदा या नुकसान हुआ हो, उन सभी को टैक्स भरना चाहिए।
  • सहकारी, समिति या अन्य तरह के फर्म को भी टैक्स भरना चाहिए।
  • सोसायटी, धर्म या धार्मिक स्थल को स्वैच्छिक कर भरने की छूट दी गई है।

भारत में इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए आवश्यक दस्तावेज़

भारत में इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए निम्नलिखित दस्तावेज़ों की आवश्यकता होती है-

  • बैंक स्टेटमेंट
  • निवेश का प्रमाण पत्र
  • टीडीए लागू के रुप में फॉर्म 16 या 16ए में प्रमाण पत्र
  • निवेश या संपत्ति की ख़रीद या बिक्री के दस्तावेज़
  • कर का चालान, जैसे- अग्रिम कर या स्वंय मूल्यांकन कर
  • पैन कार्ड
  • व्यवसायों के लिए बैलेंस शीट, ऑडिट, लाभ या हानि, कंपनी के मालिक या भागीदारी के खाते की फोटोकॉपी।
  • यदि आप टैक्स में कटौती का दावा करते हैं, तो बीमा प्रीमियम, एनएससी की भविष्य की ख़रीद, इक्विटी शेयर, म्यूचुअल फंड, एनएसएस और दान आदि की फोटोकॉपी।

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए वकील सर्च क्यों?

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने में कई बार ढेर सारी दुविधा होती हैं, लेकिन वकील सर्च आपको एक बेहतर सुविधा मुहैया कराता है। तो चलिए जानते हैं कि इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए आपको वकील सर्च ही क्यों चुनना चाहिए?

सिर्फ 2 दिन में

इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए हमारे साथ बैंक की डिटेल्स और लेनदेन सांझा करें, जिसके बाद हम वित्तीय विवरण तैयार करेंगे। इसके बाद सिर्फ दो दिन के भीतर ही आप अपना इनकम टैक्स रिटर्न फाइल कर सकेंगे।

आसानी से इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करना

हम सरकार और आपके बीच की बातचीत को काफी ज्यादा सहज बनाएंगे, ताकि आपको आसानी से समझ आ सके और आप अपना इनकम टैक्स रिटर्न आसानी से फाइल कर सकेंगे। साथ ही आपको हर मामले में एक स्पष्ट सुझाव देंगे।

बेहतरीन परामर्श

यदि आपको इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने से संबंधित कोई भी सवाल या जानकारी लेनी है, तो आप सिर्फ हमसे एक कॉल की दूरी पर हैं। जी हां, आपके सवालों का जवाब देने के लिए हमारे पास 160 की मजबूत टीम है, जोकि आपकी सेवा के लिए हमेशा उपलब्ध है।

क्यों Vakilsearch


2 कार्य दिवस

बस अपने बैंक स्टेटमेंट और नकद लेनदेन के विवरण साझा करें और हम वित्तीय विवरण तैयार करेंगे। दो कार्य दिवसों में, आप अपना आईटीआर दाखिल कर लेंगे।

9.1 ग्राहक स्कोर

हम सरकार के साथ आपकी बातचीत को उतना ही सहज बनाते हैं जितना आपके लिए सभी कागजी कार्रवाई करके संभव है। हम यथार्थवादी अपेक्षाओं को निर्धारित करने की प्रक्रिया पर भी आपको स्पष्टता प्रदान करेंगे।

160 मजबूत टीम

अनुभवी व्यापार सलाहकारों की हमारी टीम एक फोन कॉल दूर है, क्या आपको प्रक्रिया के बारे में कोई प्रश्न पूछना चाहिए। लेकिन हम यह सुनिश्चित करने का प्रयास करेंगे कि आपके संदेह उत्पन्न होने से पहले ही उन्हें साफ़ कर दिया जाए।

मुझे और अधिक जानकारी प्राप्त करें

Or

आसान मासिक ईएमआई विकल्प उपलब्ध हैं
कोई स्पैम नहीं। कोई साझाकरण नहीं। 100% गोपनीयता।
arrow

Trusted by 400,000 clients and counting, including …

startupindia springboard oyo dept-ip dbs uber ficci ap government