Now you can read this page in English.Change language to English

कॉपीराइट रजिस्ट्रेशन

किसी की बौद्धिक रचना की कॉपी करके उसे अपना नाम देना अब आसान नहीं रह गया। जी हां, इसके लिए अब बाकायदा कॉपीराइट अधिनियम है, जिसे 1957 में ही लागू कर दिया गया था, लेकिन अब लोग इसके प्रति जागरुक हो चुके हैं। इतना ही नहीं, आजकल हर कोई अपनी मौलिक रचना को चोरी होने से बचाने की हर संभव कोशिश करता है, जिसके लिए सबसे बेहतर तरीका कॉपीराइट अधिनियम है। इसी कड़ी में हम कॉपीराइट रजिस्ट्रेशन से जुड़ी तमाम जानकारी लेकर आए हैं, जिसकी मदद से आपको इसे समझने में आसानी होगी।

वीडियो देखें
शहर चुनें*
₹3998 ₹2999 (All-inclusive)
Limited Period Offer
*₹2500 will be collected later
*₹2500 will be collected later
noimage400,000 +

व्यापार सेवित

noimage4.3/5

गूगल रेटिंग्स

noimageसरल

पेमेंट ऑप्शन

कॉपीराइट पंजीकरण आपके लिए कैसे काम करता है?

भारत में कॉपीराइट पंजीकरण अपने मालिकाना हक को वितरित करने, दोहराने,काम को पुन: पेश करता है या उसी के लिए किसी अन्य संस्था को प्राधिकरण देता है।

noimage
डेटा की जाँच

हम आपके द्वारा भेजी जाने वाली फ़ाइलों की पूरी जाँच करते हैं

चरण 1

noimage
noimage
कॉपीराइट फाइलिंग

हम फिर एप्लिकेशन तैयार करते हैं और फॉर्म फाइल करते हैं

चरण 2

noimage
noimage
नियमित अपडेट

हम आपको रजिस्ट्रार द्वारा दी गई सभी सूचनाओं के साथ अद्यतित रखेंगे

चरण 3

Trusted by 400,000 clients and counting, including …