आधार कार्ड और राशन कार्ड को  कैसे लिंक करे 

Last Updated at: Sep 02, 2020
555
आधार कार्ड, राशन कार्ड

अगर आपने अभी तक अपने राशन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक नहीं किया है, तो आपको पीडीएस के तहत मिलने वाले फ़ूड प्राप्त नहीं होंगे। केंद्र सरकार ने हाल ही में आधार कार्ड को राशन कार्ड से जोड़ने की समय सीमा 30 सितंबर, 2020 तक बढ़ा दी है।

राशन कार्ड – एक नज़र

राशन कार्ड भारत सरकार द्वारा जारी किए गए सबसे पुराने आईडी और एड्रेस प्रूफ में से एक हैं।  यह डाक्यूमेंट इंडिविजूएल्स और फेमिलीज़ को डिस्काउंट प्राइस  पर फूड स्टफ प्राप्त करने में मदद करता है  इसके अलावा राशन कार्ड की डिफरेंट कैटेगरीज़ हैं  और उनमें से कुछ अपने होल्डर्स को एक्स्ट्रा  भोजन और अन्य चीजें प्राप्त करने की परमिसन देता हैं। हालांकि  हाई इन्कम वाले  हाउसेस  के राशन कार्डों को लो सब्सिडी रेट  पर समान आइटम प्राप्त होंगे। इसके कम्प्रीजन में  लो इनकम वाले फेमिली को अधिक सब्सिडी रेट का फायदा मिलता है। 

हमें राशन कार्ड से आधार को लिंक क्यों करना चाहिए ?

आधार कार्ड का हमारे देश में सबसे महत्वपूर्ण आईडी प्रूफ बनना है। आधार को राशन कार्ड से जोड़ने की प्लान स्टार्ट करने का सबसे बड़ा रीज़न फ़्राड और मिसमैनेजमेंट से लोगो को बचाना है। व्यक्तिगत परिवारों के पास फ़्राड वाले राशन कार्ड होते है यहां तक ​​कि कई राशन कार्ड हैं जिससे वे अधिक सोर्सेस तक पहुंच प्राप्त कर सकते हैं। इस तरह की इलीगल कस्टम्स और धोखाधड़ी से कई लोगों को अधिक प्राफ़िट प्राप्त होता है जबकि कुछ अन्य लोग जो सही है उनका बड़ा लॉस हो जाता है। ऐसे  मिस – डीड्स को एंड करने के लिए  गवर्नमेंट ने पब्लिक से ऑनलाइन या ऑफलाइन तरीकों से आधार कार्ड  को राशन कार्ड से कनेक्ट के लिए कहा है 

राशन कार्ड की यूटिलिटि 

स्टेट गवर्नमेंट राशन कार्ड इश्यू करती हैं  इसलिए यह नेशनेलिटी इडेंटिफिकेशन और एड्रेस सर्टिफिकेशन के रूप में भी कार्य करती है।  इसके अलावा यह एक डाक्यूमेंट है जो आपके हाउस के इकोनोमिक क्लास को इंडिकेट करने में हेल्प करता है।  राशन कार्ड हाउसेस की अरनिंग पोटेन्सिएल के अनुसार डिवाइड किए जाते हैं |

    • प्रीओरिटी राशन कार्ड – उन परिवारों को एलाटेड किया जाता है जो किसी स्टेट के बेनीफिसियरी नोर्म्स  के इनसाइड आते हैं। ऐसे राशन कार्ड होल्डर्स को प्रति सदस्य 5 किलोग्राम फूड ग्रेन्स प्राप्त होता है।  
    • अंत्योदय (एएवाई) – समाज के सबसे पूअर क्लास को अलोटेड किया गया है  जिसमें इस तरह के कार्ड के साथ हर हाउस को मिनिमम  35 के जी फूड ग्रेन्स प्राप्त होता है।

क़ानूनी सलाह लें

आधार को राशन कार्ड से लिंक करने के लिए जरुरी डाक्यूमेंट 

  1. परिवार के प्रमुख  (headman) की पासपोर्ट साइज की फोटो  
  2. हर परिवार के मेम्बर्स की आधार की कापीज़
  3. राशन कार्ड की कापी
  4. मूल (मेन) राशन कार्ड
  5. यदि आपने अपना बैंक एकाउंट और आधार  लिंक नहीं किया है तो आपका बैंक पासबुक

आधार कार्ड को राशन कार्ड से जोडने के अन्य फायदे –

आधार कार्ड और राशन कार्ड को जोड़ें और बेहतर सिस्टम का निर्माण करें

  • गलत एक्टिविटीज को रोकने में मदद करता है
  • इंस्पेक्सन के बाद  फाल्स नेम के अंडर इश्यू किए गए सभी राशन कार्डों को रिजेक्ट और कैंसल किया जा सकता है
  • बायोमेट्रिक-कैपेबल सिस्टम गवर्नमेंट को एक्चुएल परसन्स के लिए प्राफ़िट की रिकग्नाइज़ करने और उन्हें प्रोसेस्ड करने में मदद करेगी।
  • उन लोगों को बोनस सौंपने की प्रासेस को स्ट्रीमलाइन करता है जो इसके कैपेबल हैं।
  • पूरे सिस्टम को अधिक रिलाएबल और ट्रांसपारेंट बनाता है।
  • पीडीएस राशन की सभी वेराइटीज और थेफ्ट को रोक दिया जा सकता है। 
  • आधार से लिंक करना पीडीएस राशन अधिकारियों के लिए एक ऑडिट ट्रेल बनाता है  जो ट्रैक एक्टिविटीज़ में हेल्प करता है। 
  • करप्ट मिडलमेन और अधिकारियों को राशन से थेफ्ट करने से रोकने में मदद करता है।
  • फ्रेमवर्क में सेक्योरिटी और एफिसिएन्सि की एक एक्स्ट्रा लेयर जोड़ता है।